Interim Budget 2019-20: Highlight With Details In Hindi

Interim Budget 2019-20: Highlight With Details  In Hindi
Interim Budget 2019-20: Highlight With Details  In Hindi

Interim Budget 2019-20: Highlight With Details  In Hindi

केन्द्रीय वित्त, कॉरपोरेट मामले, रेल और कोयला मंत्री श्री पीयूष गोयल द्वारा वर्ष 2019-20 के लिए पेश किए गए अंतरिम बजट की मुख्य विशेषताएं इस प्रकार हैं:-


  1. छोटे और सीमांत किसानों को निश्चित सहायता उपलब्ध कराने के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की घोषणा की गई  
  2. रक्षा बजट को 3,05,296 करोड़ रूपये तक बढ़ाया गया  
  3. सरकार ने वर्ष 2019-20 में रेलवे के लिए 64,587 करोड़ रुपये आवंटित किए  
  4. 5 लाख रुपये तक की आय पर कर में पूरी छूट; अधिक मानक कटौती का प्रस्‍ताव  
  5. सरकार ने अगले दशक के लिए परिकल्‍पना पेश की  
  6. 2019-20 और उसके बाद के वर्षों के लिए राजकोषीय कार्यक्रम  
  7. उच्च विकास दर के साथ भारत पूरी दुनिया की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था : वित्तमंत्री  
  8. सबसे बड़े टैक्‍स सुधार ‘जीएसटी’ से कर आधार के साथ-साथ कर संग्रह भी बढ़ा है और कारोबार करना आसान हो गया है   
  9. इस वर्ष कर वसूली 2013-14 के 6.38 लाख करोड़ रुपये से बढ़कर लगभग 12 लाख करोड़ रुपये हो गई  
  10. ‘मेक इन इंडिया’ पहल को बढ़ावा देने के लिए सीमा शुल्‍क और प्रक्रियाओं को युक्तिसंगत बनाया जाएगा   
  11. काले धन के खिलाफ उठाये गये कदमों से 1.3 लाख करोड़ रूपये की अघोषित आय, कर के दायरे में शामिल  
  12. आगामी पांच वर्ष के दौरान 1 लाख गांवों को डिजिटल बनाया जाएगा  
  13. अंतरिम बजट 2019-20 में महिला सुरक्षा और सशक्तिकरण मिशन के लिए 1330 करोड़ रुपये  
  14. सरकार ने सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमों को सशक्त बनाने के लिए कई उपाय किए  
  15. नीति आयोग के तहत एक समिति का गठन किया जायेगा जिसका काम गैर-अधिसूचित, घुमंतू और अर्ध-घुमंतू को औपचारिक रूप से वर्गीकृत करना होगा   
  16. ‘मुद्रा योजना’ के तहत 7,23,000 करोड़ रुपये के 15.56 करोड़ ऋण वितरित किए गए हैं  
  17. पिछले पांच वर्षों के दौरान श्रमिकों के न्यूनतम वेतन में सर्वाधिक 42 % की वृद्धि हुई  
  18. सरकार का 15,000 रुपये तक की मासिक आय वाले असंगठित क्षेत्र के कामगारों के लिए प्रधानमंत्री श्रम-योगी मानधन वृहद पेंशन योजना शुरू करने का प्रस्‍ताव; इससे 10 करोड़ श्रमिक और कामगार लाभान्वित होंगे   


Post a Comment

0 Comments